एक और रिश्वतखोर लेखपाल सामने आया, कुछ नहीं कर पाए अफसर

एक और रिश्वतखोर लेखपाल सामने आया, कुछ नहीं कर पाए अफसर

बदायूं जिले में रिश्वतखोरों की भरमार है। एक खोजो तो, हजार मिलेंगे। सरकार और डीएम रिश्वतखोरी को लेकर बेहद सख्त हैं, इसके बावजूद रिश्वतखोरों पर कोई असर नहीं है। रिश्वतखोर पूरी बेशर्मी के साथ आम जनता को लूटने में जुटे नजर आ रहे हैं।

एक वीडियो वायरल हुआ है, जिसमें उझानी क्षेत्र में तैनात रहा एक लेखपाल मूल निवास प्रमाण पत्र पर अपनी रिपोर्ट लगाने के बदले रिश्वत लेता नजर आ रहा है। लेखपाल की आवाज भी वीडियो में सुनाई दे रही है, जो बेशर्मी के साथ रिश्वत की मांग कर रहा है। रिश्वतखोर लेखपाल रिश्वत लेने का तर्क भी देता सुनाई दे रहा है। कह रहा है कि वह कंप्यूटर ऑपरेटर को भी रूपये देता है, साथ ही यह स्वीकार कर रहा है कि उसे रिश्वत मिलती रहती है पर, ऑपरेटर को रिश्वत कम ही मिलती है।

बताया जाता है कि उक्त रिश्वतखोर लेखपाल 30 दिसंबर को रिटायर भी हो चुका है। वायरल हुआ वीडियो रिटायर होने से पहले का है। वीडियो तीन महीने पहले का बताया जा रहा है। अब देखना यह है कि रिटायर हो चुके रिश्वतखोर लेखपाल के विरुद्ध अफसर क्या कार्रवाई करते हैं। बता दें कि हाल ही में एक लेखपाल को रिश्वत लेते समय का वीडियो वायरल होने पर निलंबित किया गया है।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

Leave a Reply

Your email address will not be published.