सर्वदलीय बैठक के बावजूद मानसून सत्र को विपक्ष रखेगा गर्म

सर्वदलीय बैठक के बावजूद मानसून सत्र को विपक्ष रखेगा गर्म

मानसून सत्र 18 जुलाई (बुधवार) से शुरू हो रहा है। मंगलवार को सरकार ने सर्वदलीय बैठक बुलाई। बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ सभी दलों के बड़े नेता शामिल हुए। सपा की ओर से प्रो. रामगोपाल यादव और सांसद धर्मेन्द्र यादव भी बैठक में शामिल हुए। नरेंद्र मोदी ने विपक्ष से निवेदन किया कि सत्र को सुचारू रूप से चलाने में सहयोग करें और सदन को सार्थक बनायें।

प्रधानमंत्री ने कहा कि जनता की भी यही उम्मीद है कि जो मुद्दे सर्वदलीय बैठक में उठाए गए हैं, वह सदन में भी उठाये जायें और उन पर चर्चा हो। अगर, सदन सुचारू रूप से चलेगा और यह मुद्दे उठाये जायेंगे तो, देश को फायदा होगा, जनता को फायदा होगा। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार भी हर मुद्दे पर चर्चा करने को तैयार है।

बैठक में संसदीय कार्य मंत्री अनंत कुमार ने बैठक के बारे में बताया कि हम हर मुद्दे पर चर्चा करने को तैयार हैं। अविश्वास प्रस्ताव लाने की विपक्ष की बात पर अनंत कुमार ने कहा कि कोई भी प्रस्ताव विपक्ष की ओर से लाया जाता है तो, मोदी सरकार उसका जवाब देने के लिए तैयार है।

आम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने दिल्ली सरकार का मुद्दा उठाते हुए कहा कि केंद्र सरकार दिल्ली में सरकार को अपना काम नहीं करने दे रही है, सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बावजूद एलजी के द्वारा रुकावट डाली जा रही है। मानसून सत्र में किसानों की आत्महत्या, भ्रष्टाचार, मॉब लिंचिंग, महंगाई, रेप, महिलाओं से संबंधित अन्य अपराध, आरक्षण और भाजपा की रैलियां, भाजपा शासित राज्यों की कानून व्यवस्था जैसे मुद्दे छाये रहने की उम्मीद जताई जा रही है।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

Leave a Reply

Your email address will not be published.