मुठभेड़ में पुलिस कर्मी घायल, संभल जिले का इनामी बदमाश गिरफ्तार

मुठभेड़ में पुलिस कर्मी घायल, संभल जिले का इनामी बदमाश गिरफ्तार

बदायूं जिले की पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। मुठभेड़ के बाद पुलिस ने जिला संभल के बीस हजार के इनामी बदमाश को गिरफ्तार किया है। मुठभेड़ में कई पुलिस कर्मी घायल हुए हैं, जिनका उपचार चल रहा है। बदमाश ने फर्जी मुठभेड़ का आरोप लगाया है, वहीं एसएसपी ने बदमाश के आरोप को झूठ करार दिया है।

जिला संभल में स्थित थाना बनियाठेर क्षेत्र के गाँव चिड़िया भवन निवासी बीस हजार के इनामी बदमाश चन्द्रवीर पुत्र बच्चू सिंह को पुलिस ने मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया है। बताते हैं कि गुरुवार शाम के समय 5: 30 बजे थानाध्यक्ष वजीरगंज को थाना क्षेत्र में गश्त व संदिग्ध व्यक्तियों एवं वाहनों की चैकिंग के दौरान सूचना मिली कि थाना वजीरगंज पर पंजीकृत मुकदमा अपराध संख्या- 163/2010 धारा 302/201 आईपीसी बांछित अभियुक्त चन्द्रवीर बरेली से वजीरगंज आने वाले आंवला रोड पर मोटरसाईकिल से अपने साले की हत्या करने आ रहा है, इस सूचना पर थानाध्यक्ष वजीरगंज पुलिस बल के साथ रोड पर पहुंच गये, वहीं अभियुक्त चन्द्रवीर का पीछा करते हुये स्वाॅट टीम भी पीछे से वजीरगंज की ओर आ रही थी। अभियुक्त चन्द्रवीर के पास आने पर थानाध्यक्ष वजीरगंज द्वारा मोटर साईकिल को रोकने की कोशिश की गयी, जिस पर अभियुक्त ने जान से मारने की नीयत से पुलिस टीम पर फायर कर दिया गया। थाना वजीरगंज पर तैनात आरक्षी मनीष कुमार के दाहिने पैर में तथा स्वाॅट टीम प्रभारी निरीक्षक रामगोपाल शर्मा के बायें बाजू में गोली लगने से घायल हो गये।

बदमाश भाग कर पास के ही के जंगल गाँव सरौरिया थाना वजीरगंज के एक बाग में फायर करता हुआ घुस गया। थानाध्यक्ष वजीरगंज व हमराह पुलिस बल एवं स्वाॅट टीम के साथ पीछा करते रहे और फिर चन्द्रवीर को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त कर ली। अभियुक्त चन्द्रवीर शातिर किस्म का अपराधी है, जो वर्ष 2010 से फरार चल रहा था, इस पर अन्य भी कई थानों से अभियोग बताये जा रहे हैं। अभियुक्त से एक तमंचा 12 बोर, 4 जिन्दा कारतूस, 8 खोखा कारतूस, एक मोटर साईकिल, और एक मोबाईल बरामद हुआ है।

मुठभेड़ के बाद घायलों को जिला अस्पताल लाया गया, जहाँ उनका उपचार चल रहा है। अधीनस्थों के साथ एसएसपी चन्द्रप्रकाश घायल पुलिस कर्मियों से अस्पताल में मिलने पहुंचे। अभियुक्त ने पुलिस पर फर्जी मुठभेड़ दर्शाने का आरोप लगाया है, वहीं एसएसपी ने बदमाश के आरोप को झूठ करार दिया है।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

Leave a Reply

Your email address will not be published.