थाने बने मंडी, खुलेआम होता है मोल-भाव, पीड़ितों को मिल रही दुत्कार

थाने बने मंडी, खुलेआम होता है मोल-भाव, पीड़ितों को मिल रही दुत्कार

बदायूं जिले में पुलिस थाने मंडी बन गये हैं। खुलेआम मोल-भाव होता है। दाम न देने पर पीड़ित को दुत्कार दिया जाता है और पहले आरोपी दाम दे दे तो, पीड़ित के लिए थाने के द्वार ही बंद कर दिए जाते हैं। थाना फैजगंज बेहटा चर्चा का विषय बना हुआ है। यौन उत्पीड़न के आरोपी के विरुद्ध मनमानी धाराओं में मुकदमा दर्ज किया और फिर उसे एसएसपी के साथ अतिथि बना कर भोजन करा दिया, इस सब पर शर्मिंदा होने की जगह एसओ इन्द्रेश कुमार सिंह शान से कह रहे हैं कि आरोपी से दान में मोटी रकम ली थी, इसलिए भोजन पर आमंत्रित किया था। चौंकाने वाली बात यह है कि इतना सब होने पर भी अफसर मौन धारण किये हुए हैं, अभी तक दोषियों को निलंबित नहीं किया गया है।

इसी तरह की मंडी थाना इस्लामनगर बना हुआ है, यहाँ भी दाम के बिना किसी की नहीं सुनी जा रही है। एक वीडियो भी सामने आया है, जिसमें सब-इंस्पेक्टर पीड़ित से दो हजार रूपये लेते हुए नजर आ रहा है। बताया जा रहा है कि गाँव दजरामपुर दरोगा यशपाल सिंह यादव एक पक्ष का अवैध कब्जा करवा रहा था। पीड़ित लगातार गुहार लगा रहा था लेकिन, अवैध निर्माण नहीं रुकवाया। अंत में पीड़ित ने भी रूपये दिए, जिसके बाद अवैध निर्माण रुकवा तो दिया लेकिन, अवैध कब्जा अभी भी नहीं हटाया गया है, इसी तरह गाँव इबादुल्ला नगर किसैरा के एक यौन उत्पीड़न के मुकदमा में आरोपियों से रूपये ले लिए गये हैं, जिससे आरोपी खुलेआम घूमते नजर आ रहे हैं।

हाल-फिलहाल मजरा मढ़ैया अजीतपुर का प्रकरण चर्चा का विषय बना हुआ है, यहाँ के गंगा सरन के खेत पर दबंग ने कब्जा कर लिया है। दबंग दूध का धंधा करता है और नूरपुर पिनौनी की पुलिस चौकी पर दो लीटर दूध प्रति दिन मुफ्त में देता है, जिसके चलते दरोगा यशपाल सिंह यादव और दरोगा ब्रजेश यादव पीड़ित को उल्टा धमका रहे हैं। पीड़ित एसओ धीरज सिंह सोलंकी की शरण में पहुंचा तो, उन्होंने कहा कि न्यायालय से आदेश ले आओ, अवैध कब्जा हटवा देंगे।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

Leave a Reply

Your email address will not be published.