आईजी के निर्देश पर रिश्वतखोर दरोगा निलंबित, मुकदमा भी दर्ज हुआ

आईजी के निर्देश पर रिश्वतखोर दरोगा निलंबित, मुकदमा भी दर्ज हुआ

बदायूं के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार शर्मा की कड़ाई के बावजूद भ्रष्ट और लापरवाह सुधर नहीं पा रहे हैं। रिश्वतखोर पुलिस कर्मी अभियुक्तों के साथ ही खड़े हो जाते हैं और पीड़ितों का उल्टा शोषण करने लगते हैं। भ्रष्ट दरोगा तेजतर्रार आईजी के निशाने पर आ गया है। आरोपी दरोगा को मुकदमा दर्ज कर निलंबित कर दिया गया है।

पढ़ें: थाने बने मंडी, खुलेआम होता है मोल-भाव, पीड़ितों को मिल रही दुत्कार

थाना इस्लामनगर क्षेत्र की नूरपुर पिनौनी पुलिस चौकी पर तैनात दरोगा यशपाल सिंह यादव का एक रिश्वत लेने का वीडियो सामने आया था, जिसे गौतम संदेश ने 6 दिसंबर 2018 को प्रसारित किया था। आरोप है कि गाँव दजरामपुर में दरोगा यशपाल सिंह यादव एक पक्ष का अवैध कब्जा करवा रहा था। पीड़ित लगातार गुहार लगा रहा था लेकिन, अवैध निर्माण नहीं रुकवाया गया। अंत में पीड़ित ने भी रूपये दिए, जिसके बाद अवैध निर्माण रुकवा तो दिया लेकिन, अवैध कब्जा नहीं हटावाया।

उक्त प्रकरण बरेली रेंज के तेजतर्रार आईजी के संज्ञान में पहुंचा तो, उन्होंने आरोपी दरोगा के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई करने के निर्देश दे दिए। आईजी के निर्देश पर एसएसपी ने आरोपी दरोगा यशपाल सिंह यादव को निलंबित कर दिया है एवं पीड़ित ऋषिपाल यादव पुत्र ब्रह्मपाल की तहरीर पर भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम के अंतर्गत आरोपी दरोगा के विरुद्ध मुकदमा भी दर्ज करा दिया गया है।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

Leave a Reply

Your email address will not be published.