ठग ने मुकदमा की चेतावनी मिलने पर वापस दी चैनल की आईडी

ठग ने मुकदमा की चेतावनी मिलने पर वापस दी चैनल की आईडी

बदायूं जिले के बिल्सी क्षेत्र में घूमने वाले ठग पत्रकारों का गिरोह हर किसी की जुबान पर छाया हुआ है कस्बों की तो बात ही छोड़िये, ग्रामीण भी गिरोह की निंदा करते दिख रहे हैं ठग पत्रकारों के गिरोह से समाज का हर तबका त्रस्त था, जिससे लोग अब इस गिरोह को पीटने को तैयार हैं, इस गिरोह ने अब कोटेदारों, भट्टों, स्कूलों में छापा मारा तो, लोग पीटे बिना छोड़ेंगे भी नहीं, जिससे पूरा गिरोह विक्षिप्त सा हो गया है, वहीं सरगना महिलाओं के बीच चर्चा का विषय बना हुआ है

पढ़ें: ठग का बेटा पागल, पत्नी मर गई, फिर भी नहीं हुआ सुधार

बिल्सी क्षेत्र में घूमने वाले ठग पत्रकारों के सरगना ने पागल बेटे की पत्नी कब्जा ली है एवं दूसरे बेटे की पत्नी ने दबाव में जान दे दी तो, एक गरीब परिवार को मूर्ख बना कर पुनः शादी करा दी, साथ ही सरगना गे है और साथी ठग से हवस बुझवाता है, यह सब खुलासा होने से इसके आस-पास की महिलायें स्तब्ध हैं ग्रामीण क्षेत्र के एक दूधिया को मूर्ख बना कर उसकी बेटी से पागल बेटे का ब्याह करने की बात मोहल्ले के लोग जानते ही हैं लेकिन, इस बात का खुलासा हो जाने से कस्बा और क्षेत्र के लोग स्तब्ध हैं

पढ़ें: आरा मशीन के फर्जी लाइसेंस पर लकड़ी तस्करी भी करते हैं ठग

ठग पत्रकारों के गिरोह का सरगना पैदायशी हरामी है, इसके माँ-बाप मोहल्ले में रोटी का एक-एक टुकड़ा भीख में मांग कर खाते थे और अंत में आवारा कुत्ते की तरह सड़कों पर घिसटते हुए मर गये, उनके मरने से सरगना मुक्त हो गया सरगना के अंदर गंदे नाले से भी बदतर खून है, तभी आधी से ज्यादा जिंदगी औरों के टुकड़ों पर ही गुजारता रहा है

पढ़ें: ठग की चरित्रहीनता के चलते पुत्रवधू ने कर ली थी आत्म हत्या

एक धर्मशाला में चपरासी का कमरा वर्षों कब्जाये रहा, साथ ही इधर-उधर रोटी और शराब पीता रहा, अवैध वसूली करता रहा, इसकी हालत पर तरस खाकर लोग इसे पांच सौ-हजार रूपये देते रहे लेकिन, इसने एक प्लॉट पर अवैध कब्जा करने का प्रयास किया तो, अखबार ने लात मार कर इसे निकाल दिया, जिसके बाद लखनऊ के एक दलाल की सिफारिश पर टीवी चैनल का रिपोर्टर बन बैठा पर, इसके कुकर्मों की कहानी पता चलते ही चैनल ने भी जूते मार कर आउट कर दिया बताते हैं कि चैनल की आईडी वापस नहीं कर रहा था तो, चैनल के बड़े पत्रकार ने मुकदमा दर्ज कराने की चेतावनी दी तब, सरगना ने आईडी वापस की लेकिन, सरगना सामने नहीं जा पाया, आईडी कोरियर से वापस भेज दी, इतना सब होने से सरगना विक्षिप्त हो गया है और कमरे से बाहर नहीं निकल पा रहा है

पढ़ें: ठगों का सरगना और महाहरामी गुरु पीटे गये थे मुर्गा बना कर

पढ़ें: गे है ठग पत्रकारों का सरगना, साथी ठग से मिटवाता है हवस

पड़ोसियों ने बताया कि यही आलम रहा तो, बहुत जल्द अपने माँ-बाप की तरह ही बुरी अवस्था में पहुंच कर जायेगा यह भी बताया जाता है कि छोटे बेटे और उसकी बहू ने सरगना से बोलना बंद कर दिया है छोटे बेटे की बहू सरगना को घर से निकालने पर अड़ी हुई है, वरना मायके जाने की निरंतर धमकी दे रही है, जिससे छोटा बेटा भी मानसिक तौर पर परेशान बताया जा रहा है

पढ़ें: पिटाई के साथ अवैध वसूली बंद होने से विक्षिप्त हो गया है ठग

सरगना का साथी और बड़ा चोर है, यह फर्जी वसीयत के आधार पर सगे भाईयों का ही हिस्सा हड़प चुका है एवं बहन के नाम आरा मशीन का लाइसेंस लगातार रिन्यू करा रहा है बताते हैं कि यह गिरोह कीमती लकड़ी की तस्करी भी करता रहा है लेकिन, इस गिरोह की कमाई गौतम संदेश द्वारा पोल खोल देने से अब शून्य हो गई है, जिससे सरगना और उसका साथी ठग विक्षिप्त हो गये हैं

पढ़ें: पत्नी के बहाने छुट्टी-पैसे लेकर मस्ती करते हुए पकड़ा गया था ठग

बताते हैं कि यह दोनों ठग लोगों को वाट्सएप ग्रुप से रिमूव कर रहे हैं और फोन कर धमका भी रहे हैं लेकिन, लोगों ने अब इस गिरोह से डरना बंद कर दिया है, इस गिरोह ने सुधार नहीं किया तो, शीघ्र ही इन सबके पिटने की वारदातें आम तौर पर होने लगेंगी, क्योंकि इस गिरोह के प्रति लोगों में बहुत गुस्सा नजर आ रहा है

पढ़ें: ठगों का सरगना और महाहरामी गुरु पीटे गये थे मुर्गा बना कर

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

Leave a Reply

Your email address will not be published.