कमलकांत के बेटे मोना ने केंद्र व्यवस्थापक को पीटा, फायर भी किया

कमलकांत के बेटे मोना ने केंद्र व्यवस्थापक को पीटा, फायर भी किया

बदायूं के चर्चित ठेकेदार कमलकांत शर्मा के बेटे मोना पर एक बार फिर गंभीर आरोप लगा है। लॉ कॉलेज के केंद्र व्यवस्थापक को पीटने और फायर झोंकने का मुकदमा दर्ज हो गया है। अज्ञात साथियों के संग मुकदमा में मोना नामजद है।

घटना उझानी कोतवाली क्षेत्र में स्थित बांके बिहारी लॉ कॉलेज की है। बताते हैं कि पुष्पांशु शर्मा “मोना” लॉ का छात्र है, जो कॉलेज में परीक्षा दे रहा था। आरोप है कि मोना नकल कर रहा था, जिस पर कॉलेज के स्टाफ ने मना किया। आरोप है कि न मानने पर केंद्र व्यवस्थापक वीरेन्द्र कुमार स्वयं आ गये और फिर उन्होंने नकल नहीं करने दी, इसी बात पर मोना ने खतरनाक वारदात को अंजाम दे दिया। आरोप है कि मोना और उसके कई साथियों ने वीरेन्द्र कुमार के साथ मारपीट की और फायर भी किया, जिससे वह बाल-बाल बच गये। मोना को नामजद करते हुए अज्ञात साथियों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज करा दिया गया है।

यह भी बता दें कि 22 अप्रैल 2017 को एक धनाढ्य परिवार के लड़के की शादी से पहले वैभव लॉन में कॉकटेल पार्टी आयोजित की गई थी, जिसमें नशा चढ़ने पर फायरिंग की गई, इसकी सूचना कोतवाल लोकेन्द्र पाल सिंह तक पहुंच गई, तो उन्होंने छापा मारा। मौके से कई युवाओं को हिरासत में ले लिया गया, जिनमें मोना भी शामिल था। अगले दिन बेटे को छुड़ाने के लिए कमलकांत शर्मा कोतवाल पर दबाव बनाने लगे। उन्होंने 80 हजार रूपये रिश्वत में देने का भी प्रयास किया, जिसका कोतवाल ने वीडियो बना लिया था और फिर मुकदमा दर्ज कर कमलकांत शर्मा को भी हिरासत में ले लिया था। 23 अप्रैल 2017 को पुलिस ने ठेकेदार कमलकांत शर्मा और उनके बेटे मोना को न्यायालय में पेश किया था, जहाँ से उन्हें जेल भेज दिया गया था।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

पढ़ें: कोतवाली पहुंचे भाजपाई पीएसी आते ही खिसके, कमलकांत और मोना गये जेल

Leave a Reply

Your email address will not be published.