भागीरथी के तट पर गूंजी शहनाई, भाव-विभोर हुए बेटियों के माता-पिता

भागीरथी के तट पर गूंजी शहनाई, भाव-विभोर हुए बेटियों के माता-पिता

बदायूं में शहनाई की गूँज कछला स्थित भागीरथी के तट पर गूंजी। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अन्तर्गत जनपद की समस्त तहसीलों में आयोजित सामूहिक विवाह समारोह में विभिन्न धर्मों के 130 वर-वधु विवाह बंधन में बंधे। तहसील सदर में 24 जोड़े, दातागंज में 26, बिसौली में 41, सहसवान में 13 एवं बिल्सी में 26 सहित 130 जोड़े जीवनसाथी बने, जिसमें जिले भर में हिन्दू सामुदाय के 121, मुस्लिम समुदाय के 7 एवं बौद्ध धर्म के 2 विवाह हुए।

कछला स्थित भागीरथी के तट आयोजित किये गये सामूहिक विवाह समारोह के मुख्य अतिथि दर्जा राज्यमंत्री वीएल वर्मा रहे, उन्होंने सदर विधायक महेश चन्द्र गुप्ता, शेखूपुर विधायक धर्मेन्द्र शाक्य, भाजपा के जिलाध्यक्ष हरीश शाक्य, बागीश पाठक, जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार सहित अन्य गणमान्य लोगों की उपस्थि में नव-दंपत्तियों को आशीर्वाद दिया। मुख्य अतिथि ने नव-दंपत्तियों को शपथ दिलाई कि गंगा मां को न गन्दा करें और न ही दूसरों को करने दें। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री सामूहिक योजना से गरीब लोगों को बेटियां अब बोझ नहीं लगेंगी। उन्होंने नव-दपत्तियों को आर्शीवाद देते हुए कहा कि सभी जोड़े वैवाहिक जीवन में सदा खुशी रहें।

डीएम ने मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह में सहयोग करने वाले सामाजिक संगठनों का भी आभार व्यक्त किया। उपहार में 35,000 रुपए वधू के बैंक खाते में और 10,000 रुपए का सामान, चांदी की बिछिया, मंगलसूत्र, पायल सहित बर्तन, पगड़ी और शादी के कपड़े आदि वस्तुएं दी गईं, इसके अलावा तहसील सदर में मुख्य अतिथि की ओर से डिनर सेट, एसएसपी की ओर से टिफिन, बीजेपी जिलाध्यक्ष की ओर से साड़ी, चैयरमैन नगर पंचायत कछला नरेश पाल यादव ने थाली-गिलास, वीरपाल सोलंकी द्वारा थाल एवं तहसीदार सदर व सहसवान की ओर से कम्बल दिए गए, इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी प्रशासन रामनिवास शर्मा, समस्त उपजिलाधिकारी, तहसीलदार सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

Leave a Reply

Your email address will not be published.