दहशत में विजय माल्या, मूलधन वापस देने को तैयार, ब्याज देने में असमर्थ

दहशत में विजय माल्या, मूलधन वापस देने को तैयार, ब्याज देने में असमर्थ

भगोड़ा शराब व्यापारी विजय माल्या दहशत में नजर आ रहा है, उसने बुधवार को कहा कि बैंकों का ऋण वापस करने के लिए तैयार है पर, वह ब्याज देने से मना कर रहा है। विजय माल्या ने कर्नाटक हाईकोर्ट में अपील भी की है लेकिन, उसकी बात पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है।

विजय माल्या का कहना है कि वह अपराधी नहीं हैं, जबकि उसे भारत में अपराधी माना जा रहा है, तीन दशक तक किंगफिशर ने भारत में कारोबार किया है, उसने कई राज्यों की मदद भी की है, किंगफिशर एयर लाइंस के लगातार घाटे में जाने का उसे दुःख है, वह सभी बैंकों का मूलधन देने के लिए तैयार है लेकिन, ब्याज नहीं दे सकता, बैंकों को मूलधन ले लेना चाहिए।

बता दें कि लंदन भाग चुके विज्य माल्या के भारत में प्रत्यर्पण के लिए वेस्टमिंस्टर कोर्ट में सुनावई चल रही है, उस पर भारतीय बैंकों का 9 हजार करोड़ का बकाया है। पिछले दिनों प्रिवेंशन ऑफ मनी लांड्रिंग एक्ट (पीएमएलए) के तहत मुंबई की विशेष अदालत ने विजय माल्या की याचिका खारिज कर दी थी। ईडी ने मुंबई की पीएमएलए कोर्ट में माल्या को भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित किए जाने की मांग को लेकर आवेदन दायर किया था, जिस पर माल्या ने अपनी याचिका में मांग की थी कि ईडी के इस आवेदन की सुनवाई पर रोक लगाई जाए।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

Leave a Reply