राहुल को पीएम बनाने और कमलनाथ के बयान से अखिलेश असहमत

राहुल को पीएम बनाने और कमलनाथ के बयान से अखिलेश असहमत

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव एमके स्टालिन के बयान से सहमत नहीं है, उन्होंने राहुल गांधी को प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार बनाए जाने की पेशकश की थी, जिस पर अखिलेश यादव ने कहा कि अगर, किसी ने राहुल गाँधी का नाम उम्मीदवार के तौर पर लिया है तो, जरूरी नहीं कि संभावित गठबंधन के नेता इससे सहमत हों। अखिलेश यादव ने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ के बयान को भी गलत बताया।

पढ़ें: भाजपा को नुकसान पहुँचाने के लिए अपनी बलि न दे समाजवादी पार्टी

अखिलेश यादव ने कहा कि देश की जनता भारतीय जनता पार्टी से बेहद नाराज है, इसीलिए कांग्रेस को तीन राज्यों में सत्ता मिली है। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और शरद पवार जैसे नेताओं ने भाजपा विरोधी दलों को एक साथ लाने के लिए काफी कोशिश की है। ऐसे में अगर, कोई व्यक्ति अपनी राय देता है तो, जरूरी नहीं कि गठबंधन इससे सहमत हो, अभी के लिए यह जरूरी है कि सभी साथ आयें, क्योंकि देश की जनता बहुत निराश है। भाजपा ने 2014 के चुनाव में जो वादे जनता से किए थे, वो पूरे नहीं हुए, सभी को साथ आना चाहिए, नेता कौन बनेगा, इसका फैसला चुनाव बाद हो जाएगा। बोले- हमारी पार्टी का मानना है कि इस तरह की घोषणाओं से गलत संदेश जा सकता है।

इसके अलावा अखिलेश यादव ने कहा कि यूपी और बिहार के लोगों को निशाना बनाना सही नहीं है, क्योंकि यहां के लोग ही केंद्र सरकार बनाते हैं, उन्होंने कहा कि जैसा मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बोला, वही महाराष्ट्र के लोग यूपी व बिहार के लोगों के बारे में बोलते हैं, ये सही नहीं है। यह भी बता दें कि मध्य प्रदेश के नव-निर्वाचित मुख्यमंत्री कमलनाथ की जड़ें उत्तर प्रदेश में ही हैं, इसके बावजूद वे यूपी वालों को बाहरी मान रहे हैं।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

Leave a Reply

Your email address will not be published.