आजम खां प्रकरण में न्यायालय ने तलब की प्रगति रिपोर्ट

आजम खां प्रकरण में न्यायालय ने तलब की प्रगति रिपोर्ट

उत्तर प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री आजम खां की मुश्किलें बढ़ सकती हैं। न्यायालय ने एसएसपी से आजम खां पर लिखे मुकदमे के संबंध में प्रगति रिपोर्ट तलब की है, जिससे पुलिस विभाग में हड़कंप मचा हुआ है।

उल्लेखनीय है कि आजम खां के कश्मीर संबंधी एक विवादित बयान पर बदायूं निवासी उज्ज्वल गुप्ता ने मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट- बदायूं के न्यायालय में प्रार्थना पत्र देकर आजम खां के विरुद्ध कानूनी कार्रवाई की मांग की थी, जिस पर न्यायालय ने पुलिस को मुकदमा दर्ज कर विवेचना करने का आदेश दिया था। पुलिस ने मुकदमे में एफआर लगा दी थी, जिसे न्यायालय ने 24 मई 2014 को खारिज कर दिया और पुलिस को विवेचना करने का आदेश दिया।

उक्त प्रकरण में पुलिस ने अभी तक कुछ नहीं किया है, यह कहते हुए उज्ज्वल गुप्ता ने न्यायालय में प्रार्थना पत्र दिया, तो मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट पुनीत कुमार गुप्ता ने वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक- बदायूं को पत्र लिख कर कहा है कि उक्त प्रकरण में अब तक की प्रगति से न्यायालय को 20 जून 2015 तक अवगत करायें। वरिष्ठ कैबिनेट मंत्री आजम खां से जुड़ा मामला है, इसलिए न्यायालय द्वारा जारी किये गये पत्र की सूचना से पुलिस विभाग में हडकंप मच गया है। बता दें कि आजम खां ने कहा था कि सिर्फ कश्मीर में मुसलमान मुख्यमंत्री है, लेकिन कश्मीर का यह नहीं पता कि वो हिंदुस्तान में है, या पाकिस्तान में

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

Leave a Reply

Your email address will not be published.