जमीन पर पड़ी तड़पती रही गर्भवती महिला, सौ रूपये ठग ले गई नर्स

जमीन पर पड़ी तड़पती रही गर्भवती महिला, सौ रूपये ठग ले गई नर्स

बदायूं जिले में स्वास्थ्य सेवायें पूरी तरह ध्वस्त हो गई हैं। जिला महिला अस्पताल में दर्द से तड़पती गर्भवती महिला को गरीब पति और सास किसी तरह ले आये, लेकिन उसे देखने वाला कोई नहीं था। गर्भवती जमीन पर पड़ी तड़प रही थी और पति व सास अस्पताल के स्टाफ से प्रार्थना कर रहे थे, पर किसी का दिल नहीं पसीजा, इससे भी बड़ी चौंकाने वाली बात यह है कि एक नर्स सौ रूपये लेकर चंपत हो गई।

प्रसव पीड़ा से कोई मादा सड़क पर तड़प रही हो, तो कठोर व्यक्ति का भी हृदय द्रवित हो उठता है और हर संभव मदद करता है, लेकिन जिन लोगों को सरकार मोटा वेतन दे रही है, भत्ता और आवास दे रही है, उन लोगों पर कोई असर नहीं होता। रात में मूसाझाग थाना क्षेत्र के गाँव बरसुनिया निवासी बेहद गरीब कल्लू की गर्भवती पत्नी सुनीता के पेट में तेज दर्द हुआ, तो वह अपनी बूढ़ी माँ के सहयोग से किसी तरह तड़पती गर्भवती पत्नी को जिला महिला अस्पताल तक ले आया, लेकिन नौ बजे के करीब अस्पताल में कोई डॉक्टर नहीं था। पीड़ित महिला को जमीन पर बैठा दिया गया, वह दर्द से चीख रही थी। लग रहा था कि किसी भी पल इसके प्राण निकल जायेंगे। डरा-सहमा पति और सास अस्पताल में जो भी दिख रहा था, उससे पत्नी को भर्ती करने की प्रार्थना कर रहे थे, पर तड़पती महिला को देख कर भी किसी का दिल नहीं पसीजा, इस बीच एक नर्स आ गई, उसने दवा देने का आश्वासन दिया और सौ रूपये की रिश्वत ले गई, लेकिन वह भी पलट कर नहीं आई, इस तरह लूटने वाली नर्स से तो कसाई भी भले कहे जा सकते हैं।

बताते हैं कि महिला स्पेशलिस्ट के रूप में महिला अस्पताल में रूचि नाम की डॉक्टर सविंदा पर नियुक्त है, लेकिन यह अस्पताल में कभी नहीं बैठती। सुबह कस्बा बिल्सी, दोपहर के समय कस्बा उझानी और शाम को आवास विकास कॉलोनी के सामने बने निजी अस्पताल में सेवायें देती है। बताते हैं कि किसी तरह डॉ. रूचि को पता चला कि अस्पताल में एक गर्भवती महिला जमीन पर पड़ी तड़प रही है, तो वह दस बजे के करीब आई और फिर पीड़ित महिला को बरेली के लिए रेफर कर के चली गई। संविदा पर कार्य कर रहे और भी डॉक्टर इसी तरह सरकारी धन हजम कर रहे हैं, ऐसे लापरवाह लोगों से जनता का कुछ भला नहीं हो रहा, इसलिए ऐसे अकर्मण्य लोगों की संविदा समाप्त कर देनी चाहिए।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

Leave a Reply

Your email address will not be published.