मुख्य सचिव ने कुंभ मेले को भव्य और दिव्य बनाने की तैयारियों को देखा

मुख्य सचिव ने कुंभ मेले को भव्य और दिव्य बनाने की तैयारियों को देखा

उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव अनूप चन्द्र पाण्डेय ने मंगलवार को प्रयागराज स्थित सर्किट हाउस मे कुम्भ मेला- 2019 की तैयारियों एवं कुम्भ कार्यों की प्रगति की समीक्षा बैठक सभी विभागों के प्रमुखों के साथ की। बैठक में रंजन कुमार, सचिव, लोक निर्माण विभाग, अनुराग यादव, सचिव, नगर विकास विभाग, मण्डलायुक्त डॉ. आशीष कुमार गोयल, एडीजी एस. एन. साबत, आईजी मोहित अग्रवाल, आईजी रेलवे, प्रभारी जिलाधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी सैमुअल पाल एन, मेलाधिकारी विजय किरन आनन्द, डीआईजी मेला के.पी. सिंह के साथ सभी विभागों के प्रमुख अधिकारी उपस्थित थे। बैठक में मुख्य सचिव ने कुम्भ के दृष्टिगत कराये जा रहे विभिन्न निर्माण कार्यों की विवरणवार समीक्षा करते हुए प्रत्येक विभाग के अधिकारी से उसकी अद्यतन प्रगति की जानकारी ली। उन्होंने कराये जा रहे कार्यों की प्रगति पर संतोष व्यक्त किया तथा समीक्षा के दौरान कुछ कार्यों की प्रगति और तेज करते हुए उसे समयबद्ध रूप से पूरा करने के निर्देश भी दिये। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि कुम्भ के लिए कराये जा रहे कार्यों में अपने प्रयासों को और बेहतर से बेहतर करते हुए कुम्भ आयोजन को भव्य एवं दिव्य बनाने में अपना सहयोग प्रदान करें।

मुख्य सचिव को बताया गया कि लोक निर्माण विभाग के द्वारा अगले माह के प्रथम सप्ताह में 16 कार्यों को पूरा कर लिया जायेगा। मुख्य सचिव ने 16 कार्यों के बारे में विस्तृत जानकरी लोक निर्माण विभाग के अभियन्ता से ली तथा उन कार्यों में और तेजी लाने के निर्देश भी दिये। उन्होंने रेलवे के द्वारा बनाये जा रहे कार्यों की प्रगति भी जानी तथा विभागों के समन्वय के साथ कार्यों को समयबद्ध रूप से पूरा करने के निर्देश भी दिये। इसी तरह उन्होंने प्रयागराज के सम्पर्क मार्गों के कार्यों की प्रगति की जानकारी ली। उन्होंने हण्डिया से वाराणसी मार्ग पर चल रहे कार्यों की वस्तुस्थिति जानी तथा निर्देशित किया कि 30 नवम्बर के बाद उस पर कोई कार्य न किया जाय तथा सड़क पर पड़े, मैटरियल को हटाते हुए उसे 4 लेन के रूप में पूर्ण रूप से व्यवस्थित कर दिया जाय ताकि, लोगों के आवागमन में किसी प्रकार की असुविधा कुम्भ मेला के दौरान न हो। उन्होंने कहा कि सम्पर्क मार्गों के कार्यों की गुणवत्ता परखने के लिए इसकी निरन्तर मॉनिटरिंग भी किया जाय तथा एडीएम स्तर के अधिकारी को टीम के साथ भेजते हुए इसकी समुचित पड़ताल भी की जाये। श्रृंगवेरपुर धाम के मार्ग की समीक्षा मुख्य सचिव के द्वारा की गयी, जिसमें बताया गया कि उक्त कार्य तेजी से किया जा रहा है तथा निर्धारित समय सीमा में कार्यों को पूरा कर लिया जायेगा। इसी तरह अन्य राज्यमार्गों की विस्तृत समीक्षा करते हुए मुख्य सचिव ने कार्यों की निर्धारित समय सीमा में ही पूरा करने के अधिकारियों को निर्देशित किया।

बैठक में रेलवे के अधिकारी द्वारा कराये जा रहे कार्यों की जानकारी मुख्य सचिव को देते हुए बताया कि रेलवे ओवर ब्रिज एवं रेलवे अण्डर पास के कार्यों को तेज गति से किया जा रहा है तथा अगले माह की निर्धारित तिथियों में कार्य पूर्ण हो जायेंगे। नगर निगम के कार्यों की समीक्षा करते हुए मुख्य सचिव ने कुम्भ मेले में सफाई व्यवस्था पर जोर दिया। उन्होंने नगर निगम के अधिकारियों को निर्देशित किया कार्यों को शीघ्रता से साथ पूरा करें तथा मैन पॉवर को बढ़ाते हुए सफाई व्यवस्था को और दुरूस्त किया जाये। उन्होंने कहा कि कुम्भ मेला में सफाई व्यवस्था का महत्वपूर्ण स्थान है, इसका विशेष ध्यान दिया जाय। लोक निर्माण विभाग के द्वारा कराये जा रहे कार्यों की समीक्षा मुख्य सचिव के द्वारा की गयी, जिसमें उपाध्यक्ष विकास प्राधिकरण के द्वारा बताया गया कि सभी कार्य समयबद्ध रूप से किये जा रहे है। उन्होंने कहा कि विकास प्राधिकरण के कार्यो में सम्बन्धित विभाग के अधिकारी समन्वय स्थापित करते हुए कार्यों को पूरा कराया जाये। प्रयागराज में पेंट माई सिटी के तहत कराये जा रही पेंटिग के बारे में मुख्य सचिव को विस्तार से बताये हुए उन्हें कुछ फोटोग्राफ्स भी पॉवर प्रेजेटेंशन के माध्यम से दिखाये गये। मण्डलायुक्त ने बताया कि करायी जा रही वॉल पेंटिग में प्रयागराज की जनता का बहुत सहयोग मिल रहा है। पर्यटन विभाग के द्वारा कराये जा रहे कार्यों की जानकारी मुख्य सचिव के द्वारा ली गयी। उन्होंने सूचना विभाग एवं संस्कृति विभाग के द्वारा कराये जा रहे कार्यों की भी जानकारी ली।

मुख्य सचिव ने अधिकारियों को कहा कि कुम्भ के दृष्टिगत कराये जा रहे कार्यों को अपनी प्राथमिकता मे लेते हुए उसे पूरी लगन एवं कर्तव्यनिष्ठा के साथ पूरा किया जाये। उन्होंने कहा कि कुम्भ का आयोजन विश्व का सबसे बड़ा आयोजन है, इसमें किसी भी स्तर पर शिथिलता एवं लापरवाही न किया जाये। उन्होंने कहा कि कुम्भ आयोजन में अगले माह में विभिन्न देशों के प्रतिनिधि आ रहे है, जिनके स्वागत के लिए हमें प्रयागराज को बेहतर से बेहतर रूप में प्रदर्शित करना है। उन्होंने कहा कि प्रयागराज में आने वाले श्रद्धालुओं एवं पर्यटकों को शहर बदला हुआ नजर आये तथा उन्हें किसी प्रकार की असुविधा न हो, इस बात का विशेष ध्यान दिया जाना है।

मुख्य सचिव अनूप चन्द्र बैठक करने के उपरान्त कुम्भ- 2019 के लिए कराये जा रहे कार्यों का स्थलीय निरीक्षण करने निकले। उन्होंने शहर के विभिन्न क्षेत्रों का व्यापक रूप से निरीक्षण किया तथा निर्मित कार्यो तथा निर्मित हो रहे कार्यों को देखकर प्रसन्नता भी जाहिर की। उन्होंने कहा कि प्रयागराज में कुम्भ के दृष्टिगत विभिन्न निर्माण कार्य कराये जा रहे है, जो ऐतिहासिक एवं अभूतपूर्व है। उन्होंने कहा कि विगत मेलों में इस तरह के इतने निर्माण कार्य नहीं कराये गये हैं, जो कुम्भ- 2019 में कराये जा रहे हैं। मुख्य सचिव ने शहर की सडकों, फ्लाई ओवरों का निरीक्षण किया।

मुख्य सचिव निरीक्षण के दौरान सर्व प्रथम हाईकोर्ट फ्लाईओवर पर गये। हाईकोर्ट फ्लाईओवर को देखते हुए मुख्य सचिव करिय्पा द्वार पर होते हुए फायर ब्रिग्रेड चौराहा पहुंचे, जहां पर रूककर उन्होंने चौराह के बदले रूप को देखा। मण्डलायुक्त के द्वारा उक्त चौराहा पर कराये जा रहे कार्यों का विस्तार से बताया गया। वहां से निकलकर मुख्य सचिव मेडिकल चौराहा पर पहुंचे, जहां पर उन्होंने रामबाग फ्लाई ओवर के निर्माण को देखा। मण्डलायुक्त ने रामबाग फ्लाई ओवर के निर्माण की महत्वता के बारे में विस्तार से बताया गया, वहीं पर लगाये जाने वाले डिजिटल साइनेज के बारे में भी जानकारी मण्डलायुक्त के द्वारा मुख्य सचिव को दी गयी। वहां से निकलकर मुख्य सचिव भारद्वाज पार्क पहुंचे, जहां पर उन्होंने कराये जा रहे कार्यों को विस्तार से देखा। मण्डलायुक्त के द्वारा मुख्य सचिव को अवगत कराया गया कि कि पार्क में अधिक से अधिक हरियाली हो इसके व्यापक प्रबन्ध किये गये है। मुख्य सचिव ने भारद्वाज पार्क में कराये जा रहे कार्यों पर प्रसन्नता भी व्यक्त की। इसके बाद मुख्य सचिव वहां से निकलकर बख्शी बांध पहुंचे, जहां पर उन्होंने कराये गये कार्यों की जानकारी ली तथा कुम्भ के दृष्टिगत इसे दर्शनीय स्थल के रूप मे विकसित करने की जानकारी मण्डलायुक्त के द्वारा उन्हें दी गयी। मुख्य सचिव वहां से निकल कर अक्षयवट एवं सरस्वती कूप भी देखने पहुंचे।

मुख्य सचिव ने निरीक्षण के दौरान देखे गये कार्यों पर संतोष व्यक्त करते हुए प्रसन्नता भी व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि इन निर्माण कार्यों से प्रयागराज की जनता को बड़ी राहत मिलेगी तथा कुम्भ आयोजन को और बेहतर से ढंग से सम्पन्न कराने में सफलता हासिल होगी। कुम्भ के दृष्टिगत निर्मित हो रही सडकों, फ्लाई ओवरों एवं अण्डर पासों से यातायात सुगम हो तथा प्रयागराज की जनता को जाम से मुक्ति मिल सकेगी।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

Leave a Reply

Your email address will not be published.