नगर पंचायत वजीरगंज में जुटे भारतीय जनता पार्टी के धुरंधर नेता

नगर पंचायत वजीरगंज में जुटे भारतीय जनता पार्टी के धुरंधर नेता

बदायूं जिले के स्थानीय निकाय चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी कई स्थानों पर चक्रव्यूह में फंसे हुए नजर आ रहे हैं, लेकिन भाजपा का शीर्ष नेतृत्व सबसे छोटी नगर पंचायतों में से एक वजीरगंज को सर्वाधिक गंभीरता से ले रहा है। वजीरगंज में भाजपा के कई बड़े नेता जुटे, जिन्होंने भाजपा के लिए वोट भी मांगे।

उल्लेखनीय है कि भाजपा के कर्मठ कार्यकर्ता दीपेश वार्ष्णेय ने विद्रोह कर दिया है और भाजपा प्रत्याशी के विरुद्ध अपनी भाभी को मैदान में उतार दिया है, साथ ही देश भर में कट्टरपंथी हिंदूवादी नेता के रूप में पहचान बना चुके कुलदीप वार्ष्णेय भी दीपेश वार्ष्णेय से कंधा मिला चुके हैं, जिससे जिले का भाजपा नेतृत्व वजीरगंज के चुनाव को अपनी प्रतिष्ठा से जोड़ चुका है। जिले की कई नगर पंचायतों और नगर पालिकाओं में भाजपा प्रत्याशी फंसे नजर आ रहे हैं, लेकिन वहां जाने की जगह आज वजीरगंज में जिलाध्यक्ष हरीश कुमार शाक्य, विधायक महेश चंद्र गुप्ता, विधायक आरके शर्मा, विधायक धर्मेन्द्र शाक्य, पूर्व विधायक प्रेम स्वरूप पाठक के अलावा बरेली जिले के विधान सभा क्षेत्र फरीदपुर के विधायक श्याम बिहारी लाल जुटे, जिन्होंने कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित किया। वक्ताओं ने कार्यकर्ताओं से भाजपा प्रत्याशी को जिताने का आह्वान किया।

यह भी बता दें कि युवा नेता विश्वजीत गुप्ता, महामंत्री सुधीर श्रीवास्तव, भाजयुमो जिलाध्यक्ष अंकित मौर्य निरंतर वजीरगंज में ही गोष्ठियां कर रहे हैं, यह सब आज भी उपस्थित रहे और डोर-टू-डोर घूमे, इसके अलावा ज्ञानेंद्र वर्मा, राजीव जैकी, अनुज सक्सेना, राकेश वार्ष्णेय, राजेश गुप्ता, पुष्पेन्द्र सैनी, अनुभव वार्ष्णेय, पंकज चौधरी, महेंद्र जाटव, नन्दकिशोर वार्ष्णेय, राजेन्द्र वार्ष्णेय, प्रतीक मिश्रा, शरद वार्ष्णेय, मयंक गुप्ता, तनु वार्ष्णेय, योगेन्द्र वार्ष्णेय, विद्याराम मौर्य, प्रवेश, नरेश गुर्जर, गौरव वार्ष्णेय, अभिषेक फैंसी, धीर सिंह सहित अन्य तमाम लोग भी मौजूद रहे।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

Leave a Reply

Your email address will not be published.