वजीरगंज में दीपेश के सारथी बने कुलदीप वार्ष्णेय, भाजपा में हड़कंप

वजीरगंज में दीपेश के सारथी बने कुलदीप वार्ष्णेय, भाजपा में हड़कंप

बदायूं जिले के स्थानीय नगर निकाय चुनाव में भारतीय जनता पार्टी के नेताओं का रक्तचाप वजीरगंज नगर पंचायत ने सातवें आसमान पर पहुंचा रखा है वजीरगंज में एक प्रभावशाली व्यक्ति भाजपा के विरोध में खड़ा हो गया, वहीं दूसरे कद्दावर नेता ने उसे समर्थन दे दिया, जिससे भाजपा नेता तिलमिला गये हैं

नगर पंचायत वजीरगंज से चेयरमैन पद के लिए भाजपा में कई दावेदार थे तमाम लोगों ने आवेदन किये, लेकिन महिला वर्ग के लिए पद आरक्षित होने के कारण टिकट शकुंतला देवी पत्नी राहुल गुप्ता का हुआ दीपेश वार्ष्णेय लंबे समय से चुनाव की तैयारी में जुटे थे, उन्हें संगठन ने संकेत भी दे रखा था, पर जब उन्हें टिकट नहीं मिला, तो वे विद्रोही हो गये और अपनी भाभी को निर्दलीय प्रत्याशी बना दिया दीपेश के मैदान में आते ही देश भर में पहचाने जाने वाले हिंदूवादी नेता कुलदीप वार्ष्णेय ने भी दीपेश को समर्थन दे दिया कुलदीप वार्ष्णेय के समर्थन देते ही भाजपा में हड़कंप मच गया हालात इतने गंभीर हो गये हैं कि बदायूं नगर पालिका की तुलना में भाजपा नेता नगर पंचायत वजीरगंज को ज्यादा गंभीरता से ले रहे हैं

वजीरगंज में भाजपा प्रत्याशी का टैंपो हाई करने के लिए विधायक महेश चंद्र गुप्ता स्वयं लोगों से मिल रहे हैं, पुत्र व युवा नेता विश्वजीत गुप्ता, महामंत्री सुधीर श्रीवास्तव और भाजयुमो जिलाध्यक्ष अंकित मौर्य को विशेष कमान सौंपी गई है, जो स्थानीय स्तर पर कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर रहे हैं भाजपा नेताओं की गंभीरता के चलते वजीरगंज जिले भर में चर्चा का विषय बनी हुई है

भाजपा के विरोध में खड़ा होने के सवाल पर कुलदीप वार्ष्णेय ने कहा कि चंद नेताओं के गलत निर्णय को भाजपा का विरोध नहीं कहा जा सकता उन्होंने कहा कि वजीरगंज के लोगों के मन की बात भी सुननी चाहिए, उनके भाव का सम्मान करना चाहिए, लोकतंत्र में जनता से बड़ा कोई नहीं होता, इस चुनाव में जनता तय कर देगी कि निर्णय सही है, या गलत। उन्होंने कहा कि हम लोग सब का साथ और सबका विकास के साथ सबके सम्मान के नारे के साथ ही चुनाव लड़ रहे हैं, बड़ी बात चुनाव चिन्ह नहीं, बल्कि सोच होती है और हमारी सोच, हमारा व्यवहार गरीब और शोषित वर्ग के साथ खड़े होने का है, उनका खून चूसने वालों से हम लड़ रहे हैं, जिसका परिणाम चुनाव बाद सबके सामने होगा।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

Leave a Reply

Your email address will not be published.