चूहा कांड में राधिका स्वीट्स के मालिक को बचाती नजर आ रही है पुलिस

चूहा कांड में राधिका स्वीट्स के मालिक को बचाती नजर आ रही है पुलिस

बदायूं के विवादित राधिका स्वीट्स और रेस्टोरेंट के शातिर मालिक को चूहा कांड में पुलिस बचाती नजर आ रही है। हालाँकि पुलिस का कहना है कि विवेचना की जा रही है, लेकिन हाई-प्रोफाइल प्रकरण में आम जनता त्वरित कार्रवाई की अपेक्षा कर रही है।

उल्लेखनीय है कि 10 अक्टूबर की रात लगभग नौ बजे नेकपुर निवासी विवेक गुप्ता अपने साथियों के संग इंद्रा चौक के पास स्थित राधिका स्वीट्स के रेस्टोरेंट पर भोजन कर रहा था, इस दौरान विवेक को सब्जी में तला हुआ चूहा दिखाई दिया। उक्त घटना का ग्राहक ने वीडियो बना लिया था, जिसे उसने सोशल साइट्स पर शेयर कर दिया था। गौतम संदेश ने ग्राहकों की जिंदगी से हो रहे खिलवाड़ की खबर प्रकाशित की थी, जिसके बाद खाद्य विभाग की टीम ने 11 अक्टूबर को मौके पर जाकर जाँच की, तो तमाम गंभीर अनियमिततायें पाई गईं। खाद्य विभाग ने नोटिस जारी कर राधिका स्वीट्स के मालिक से स्पष्टीकरण मांगा था एवं मानक पूरे न होने तक रेस्टोरेंट बंद करने के निर्देश दिए थे। राधिका स्वीट्स के संचालक ने बाद में खाद्य विभाग के निर्देश के अनुसार समस्त मानक पूरे कर लिए, तो रेस्टोरेंट शुरू करने की अनुमति दे दी गई, जबकि खाद्य विभाग को शुरू में ही मुकदमा दर्ज कराना चाहिए था। खाद्य विभाग की कार्रवाई औपचारिता पूरी करने भर की थी, क्योंकि ग्राहकों के स्वास्थ्य का ध्यान रखना खाद्य विभाग का प्रथम दायित्व है। राधिका रेस्टोरेंट की रसोई की हालत दयनीय थी, इसके लिए खाद्य विभाग भी बराबर का दोषी है।

घटना के बाद पीड़ित ग्राहक विवेक ने आरोप लगाया था कि राधिका स्वीट्स का मालिक और उसका बेटा उसे धमका रहा है। वायरल किये गये वीडियो का खंडन न करने पर उसे और उसके परिवार को भयानक अंजाम भुगने की धमकी दी जा रही है, जिससे पीड़ित डरा-सहमा है। पीड़ित के प्रार्थना पत्र पर थाना सिविल लाइंस पुलिस ने अफसरों के निर्देश पर मुकदमा दर्ज कर लिया था, अब पुलिस प्रकरण को दबाने का प्रयास करती नजर आ रही है। पुलिस ने अभी तक मौका मुआयना तक नहीं किया है। एसओ सिविल लाइंस देवेश सिंह का कहना है कि विवेचना चल रही है। पुलिस 90 दिन तक विवेचना कर सकती है, इसलिए पुलिस के पास अभी पर्याप्त समय है, लेकिन आम जनता की अपेक्षा त्वरित कार्रवाई की थी, क्योंकि राधिका स्वीट्स पर न सिर्फ आम जनता, बल्कि जिले भर के वीवीआईपी और अफसर अटूट विश्वास करते थे।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

पढ़ें: चूहा कांड में राधिका स्वीट्स के मालिक और बेटे के विरुद्ध मुकदमा दर्ज

पढ़ें: राधिका स्वीट्स के मालिक ने पत्रकारों को रूपये देते हुए बना लिया वीडियो

Leave a Reply

Your email address will not be published.