1711 मतदान केद्रों पर बनेंगे 2557 बूथ, मतदाता हैं 22 लाख 78 हजार

1711 मतदान केद्रों पर बनेंगे 2557 बूथ, मतदाता हैं 22 लाख 78 हजार

बदायूं जिले में लोकसभा सामान्य निर्वाचन एवं होली के त्यौहार को शांति पूर्ण सम्पन्न कराने के लिए सौपें गए दायित्व में किसी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। होलिका दहन संवेदनशील एवं अति संवेदनशील स्थानों पर सीओ पहुंच कर आवश्यक कार्रवाई करें। कोई भी नई परंपरा नहीं पड़नी चाहिए। गांवों में पूर्व प्रधान एवं मौजूदा प्रधानों के बीच विवादों पर निरोधात्मक कार्यवाही की जाए। भारत निर्वाचन आयोग द्वारा दिए गए निर्देशों का अक्षरशः पालन किया जाए।

मंगलवार को कलेक्ट्रेट स्थित सभागार में मंडलायुक्त रणवीर प्रसाद की अध्यक्षता में लोकसभा सामान्य निर्वाचन एवं होली का त्यौहार शांति पूर्ण ढंग से संपन्न कराने के लिए बैठक आयोजित की गई। उन्होंने पुलिस विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि छोटी-छोटी बातों का विशेष ध्यान रखें, जिससे बड़ी समस्या उत्पन्न न हो सके। कहीं पर भी कोई घटना घटित होती है तो, थाना प्रभारी तत्काल मौके पर पहुंच कर शांति स्थापित करायें। त्यौहार में नई परंपरा न डालने दी जाए। भारत निर्वाचन आयोग के दिए गए निर्देशों को ध्यान पूर्वक पढ़कर उन पर कार्रवाई करें।

जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह ने बताया कि जनपद में 1711 मतदान केंद्र एवं 2557 मतदान बूथ बनाए गए हैं, जिन पर लगभग 22 लाख 78 हजार मतदाता मताधिकार का प्रयोग करेंगे। प्रत्येक पोलिंग बूथ पर दिव्यांग मतदाताओं के लिए व्हील चेयर साइकिल, शुद्ध पीने का पानी एवं रैम्प आदि की व्यवस्था की गई है। प्रत्येक पोलिंग बूथ पर चार सोलर लैंप की व्यवस्था की गई है। मतदाता जागरूकता एवं शांति व्यवस्था को लेकर गांव-गांव एसडीएम, सीओ और तहसीलदार सहित अन्य संबंधित अधिकारियों के साथ चौपाल का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने कमिश्नर को अवगत कराया कि निर्वाचन की सारी व्यवस्थाएं पूर्ण कर ली गई हैं।

मंडलायुक्त ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि सभी अधिकारी अपने कार्यों को समय से पूर्ण कर के अन्य जनपदों में एक मिसाल बनें। उन्होंने कहा कि यहां की तैयारियां सबसे अच्छी हैं, यहां की तैयारियों का अनुभव अन्य जनपदों में बांटा जाएगा। समस्त विभाग के नोडल अधिकारियों को निर्देश दिए कि आयोग के निर्देशों का कड़ाई से पालन किया जाए। उन्होंने अधिकारियों से निर्वाचन की तैयारियों के संबंध में प्रश्न भी पूछे। उन्होंने कहा कि सुविधा सुगम का सभी अधिकारियों को पुनः प्रशिक्षण दिया जाए। शिकायत कंट्रोल रूम 24 घंटे सक्रिय रहे। मतदाता जागरूकता स्वीप कार्यक्रम के अंतर्गत मेगा कार्यक्रम का आयोजन किया जाए।

उन्होंने कहा कि सभी लोग निर्भीक एवं निडर होकर निर्वाचन कार्यक्रम को सफल बनाएं, निर्वाचन शांति पूर्ण और निष्पक्ष कराया जाए। निर्वाचन के दौरान किए जाने वाले कार्य एवं दायित्व का बोध ज्ञान कराते हुए कहा कि भारत निर्वाचन आयोग के सख्त निर्देश हैं कि इसमें कोई भी लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी, सभी को जो जिम्मेदारी दी गई है, उनका अक्षरशः पालन करें। जोनल सेक्टर मजिस्ट्रेट अपने-अपने क्षेत्रों में भी भ्रमणशील रहें तथा गाड़ियों में जीपीएस सिस्टम लगा हुआ हो, जिसकी निगरानी भी की जाए।

लोकसभा सामान्य निर्वाचन- 2019 को शांति पूर्ण एवं सुरक्षित वातावरण में संपन्न कराना हर अधिकारी का पहला उद्देश्य होना चाहिए। सभी नोडल अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि वे निर्वाचन के दौरान हर गतिविधि पर सतर्क रहें और कोई भी गड़बड़ी मिलने पर छापामार कार्यवाही अवश्य करें। उड़नदस्तों एवं स्टैटिक्स निगरानी टीम को जो क्षेत्र दिया गया है, वह अपनी उपस्थिति उसी क्षेत्र में रखें और भ्रमण सील रहे। उन्होंने कहा कि टीम नगदी शराब या रिश्वत के वितरण के संबंध में या असामाजिक तत्व के संबंध में कोई जानकारी मिलती है, उस पर तत्काल कार्रवाई करें और अपने उच्च अधिकारियों को भी अवगत कराएं, हर कार्य की वीडियोग्राफी अति आवश्यक है। सभी आपस में सामंजस्य बनाकर कार्य करें, टीम भावना के साथ कार्य करें, निर्वाचन के समय छोटे बड़े की भावना से कार्य न करें, हमारा उद्देश्य जनपद में लोक सभा सामान्य निर्वाचन- 2019 को निष्पक्ष रूप से शांतिपूर्ण सकुशल संपन्न कराना है।

आईजी राजेश कुमार पांडेय ने कहा चुनाव की सभा रैली नुक्कड़ आदि पर टीमें नजर बनाए रखें और वीडियोग्राफी कराते रहें। उन्होंने आबकारी विभाग को निर्देश दिए कि काम में ढिलाई नजर नहीं आना चाहिए। उन्होंने पुलिस विभाग को निर्देश दिए कि त्यौहार एवं निर्वाचन को ध्यान में रखकर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था रखी जाए। कहीं पर भी किसी प्रकार की नई प्रथा न डालने दी जाए। गांव-गांव जाकर पूर्व प्रधान एवं मौजूदा प्रधानों के बीच हुए विवादों पर निरोधात्मक कार्रवाई की जाए। अति संवेदनशील स्थानों पर पर्याप्त सुरक्षा बल तैनात किया जाए। कहीं पर किसी प्रकार की कोई घटना घटित होती है तो, थाना प्रभारी तत्काल मौके पर पहुंचे। रिजर्व पुलिस लाइन में सभी कांस्टेबलों को प्रशिक्षण दे दिया जाए। इस अवसर पर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार त्रिपाठी, मुख्य विकास अधिकारी निशा अनंत, उप-जिला निर्वाचन अधिकारी नरेंद्र बहादुर सिंह, एसपी सिटी जितेंद्र कुमार श्रीवास्तव, अपर जिलाधिकारी प्रशासन रामनिवास शर्मा एवं नगर मजिस्ट्रेट केके अवस्थी सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

Leave a Reply