दलाल ने फंसवाया था बाबू जहीर, बाइक में अफीम रखने वाले गिरफ्तार

दलाल ने फंसवाया था बाबू जहीर, बाइक में अफीम रखने वाले गिरफ्तार

बदायूं में एक बाबू को राजनैतिक दबाव में जेल भिजवाने का षड्यंत्र रचा गया था। बाइक में अफीम रखवा कर बाबू को गिरफ्तार करा दिया गया लेकिन, पुलिस ने षड्यंत्र का खुलासा कर दिया। बाइक में अफीम रखने वालों को गिरफ्तार कर लिया गया है। मुख्य षड्यंत्रकर्ता पुलिस की गिरफ्त से अभी तक बाहर है।

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार त्रिपाठी ने बताया कि सिविल लाइन थाना पुलिस को वसीम पुत्र फहीम अहमद निवासी वार्ड संख्या- सखानूं और दबीर पुत्र रफलदार निवासी नैथू थाना अलापुर ने सूचना दी कि एक मोटरसाइकिल कचहरी तिराहा के पास खड़ी है, जिसके टूल बॉक्स में अफीम है। पुलिस ने मौके पर जाकर बाइक के मालिक का इंतजार करने लगी। बाइक स्वामी ने आकर बाइक स्टार्ट करने का प्रयास किया तो, पुलिस ने पकड़ लिया। नाम, पता पूछने पर उसने अपना नाम जहीर उल हसन पुत्र मोहम्मद हसन निवासी सखानूं बताया, वह नगर पंचायत सखानूं में बाबू भी है।

बाइक खंगालने पर लगभग 320 ग्राम की अफीम भी मिल गई लेकिन, जहीर उल हसन ने कहा कि अफीम उसकी नहीं है एवं उसकी बाइक में अफीम कैसे आई, इस बारे में भी उसे नहीं पता। घटना को संदिग्ध मानते हुए पुलिस ने सूचना देने वाले वसीम व दबीर से कड़ाई से पूछताछ की तो, वसीम ने बताया कि बाबू जहीर उल हसन उसके गाँव का है, उसके काम नहीं करता तथा हर काम में रुकावट भी पैदा करता है, इसीलिए दबीर से मिल कर उसे फंसाने का प्रयास किया था।

वसीम ने लाबेला चौक पर ताले बनाने वालों से बाबू जहीर उल हसन के टूल बॉक्स की चाबी बनवायी थी, उसके बाद 40,000 रुपये की अफीम खरीद कर उसे टूल बॉक्स में रख दी। पुलिस ने मुकदमा अपराध संख्या- 109/19 धारा 8/21 एनडीपीएस एक्ट पंजीकृत कर दोनों व्यक्तियों वसीम तथा दबीर को गिरफ्तार कर न्यायालय के समक्ष पेश कर दिया, जहाँ से दोनों को जेल भेज दिया गया।

सूत्रों का कहना है कि आवास विकास कॉलोनी में रहने वाले एक दलाल के दबाव में जहीर उल हसन को फंसाने का प्रयास किया गया था लेकिन, पुलिस षड्यंत्रकर्ता तक अभी नहीं पहुंची है। बताते हैं कि दलाल अनैतिक रूप से ठेके लेता है पर, जहीर दलाल की मनमानी नहीं करने दे रहे थे, जिससे दलाल ने ही जहीर को फंसाने की पूरी कहानी तैयार की थी, जिसमें कुछ पुलिसकर्मी भी शामिल हैं। हालाँकि जहीर की छवि भी बहुत अच्छी नहीं बताई जाती। जहीर पर भी मनमानी करने का आरोप लगता रहा है।

इसके अलावा जरीफनगर थाना पुलिस ने 20 हजार रुपये के इनामी अपराधी बिजनेस उर्फ बिन्ना पुत्र महेश निवासी ग्राम भक्ता नगला थाना जरीफनगर को गिरफ्तार किया गया है। अभियुक्त मुकदमा अपराध संख्या- 515/18 धारा- 2/3 गैंगस्टर एक्ट में वांछित था। अभियुक्त के पास से एक तमन्चा 315 बोर व 2 जिन्दा कारतूस बरामद हुए हैं। एसएसपी ने गिरफ्तार करने वाली टीम को पुरस्कृत करने की घोषणा की है।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

Leave a Reply