आंवला क्षेत्र में रूचि वीरा की राह का रोड़ा बन सकती हैं अपर्णा यादव

आंवला क्षेत्र में रूचि वीरा की राह का रोड़ा बन सकती हैं अपर्णा यादव

आंवला लोकसभा क्षेत्र से प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के टिकट पर अपर्णा यादव चुनावी समर में उतर सकती हैं। अपर्णा की टीम क्षेत्र में पिछले कई दिनों से संभावनाओं को तलाश रही थी। टीम ने अपर्णा यादव को सकारात्मक राजनैतिक वातावरण बताया है, जिससे उनका चुनाव लड़ने का मन चुका है।

पढ़ें: सिनोद शाक्य की मदद के बिना पार नहीं लग पायेगी रूचि वीरा की नैया

अपर्णा यादव मुलायम सिंह यादव के छोटे बेटे प्रतीक यादव की पत्नी हैं, उन्हें संभल लोकसभा क्षेत्र से सपा द्वारा टिकट देने की चर्चा चल रही थी लेकिन, सपा ने वहां से शफीकुर्रहमान बर्क को प्रत्याशी बना दिया तो, सभी अटकलों पर विराम लग गया। मुलायम सिंह यादव की राजनैतिक विरासत को अखिलेश यादव ने पूरी तरह कब्जा लिया है, जिससे अपर्णा यादव राजनीति में स्थापित नहीं हो पा रही हैं।

पढ़ें: सपा छोड़ कर आईं रूचि वीरा हो सकती हैं आंवला क्षेत्र से बसपा प्रत्याशी

अपर्णा को लग गया है कि सपा में उनका कोई भविष्य नहीं है, सो वे चाचा शिवपाल सिंह यादव के पाले में जा सकती हैं। आंवला लोकसभा क्षेत्र गठबंधन के तहत बसपा के खाते में गया है, यहाँ से बसपा ने बिजनौर की बाहरी प्रत्याशी रूचि वीरा को मैदान में उतारा है, जिससे अपर्णा यादव के लिए संभावनायें तलाशी जाने लगीं।

सूत्रों का कहना है कि आंवला लोकसभा क्षेत्र में भ्रमण कर पिछले कई दिनों से टीम हालातों को देख रही थी। माना जा रहा है कि क्षेत्र के हालात अपर्णा यादव के लिए सकारात्मक हैं। सूत्रों का कहना है कि अपर्णा यादव शिवपाल सिंह यादव और कई वरिष्ठ मौलानाओं के साथ आकर नामांकन पत्र दाखिल कर सकती हैं।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

Leave a Reply