बदायूं में राम राज्य, मंडलायुक्त को सब कुछ सही लगा

बदायूं में राम राज्य, मंडलायुक्त को सब कुछ सही लगा
बदायूं में शिकायतें सुनते मंडलायुक्त बरेली।
बदायूं में शिकायतें सुनते मंडलायुक्त बरेली।
बरेली मण्डल के आयुक्त प्रमांशु को बदायूं में कलेक्ट्रेट निरीक्षण के दौरान सब कुछ ठीक मिला। उन्होंने अभिलेखों के रख-रखाव की प्रशंसा करते हुए चकरोडों से अवैध कब्जा हटाने की कार्रवाई अमल में लाने के निर्देश दिए हैं।
गुरूवार को आयुक्त ने जिलाधिकारी शम्भूनाथ, अपर जिलाधिकारी (प्रशासन) अशोक कुमार श्रीवास्तव, अपर जिलाधिकारी (वित्त एवं राजस्व) राजेन्द्र प्रसाद यादव सहित अन्य अधिकारियों के साथ कलेक्ट्रेट का निरीक्षण किया। उन्होंने सफाई व्यवस्था एवं अभिलेखों के रख-रखाव पर संतोष व्यक्त करते हुए मालखाने में जमा शस्त्रों का प्रभारी अधिकारी शस्त्र से सत्यापित कराने के निर्देश देते हुए पुराने रिकार्ड रूम में बाहर हवा निकालने हेतु पंखा लगाने के निर्देश दिए। उन्होंने रिकार्ड रूम में अग्निशमन यन्त्रों का प्रयोग करने का सुझाव देते हुए कहा कि अमूमन इन यन्त्रों का प्रयोग कम होता है, इसलिए ट्रायल के तौर पर लोगों को दिखाकर इन यन्त्रों का प्रयोग किया जाए। उन्होंने रिकार्ड रूम के बस्तों की धूल बैक्यूम क्लीनर से साफ कराने के निर्देश दिए। आयुक्त ने आबकारी कार्यालय के निरीक्षण के दौरान बाहर से आने वाली जहरीली शराब की जानकारी करते हुए अवैध कारोबार पर पूर्णतया प्रतिबंध लगाने के निर्देश दिए। आयुक्त ने एकल खिड़की में विभिन्न प्रमाण पत्र बनवाने हेतु प्राप्त होने वाले प्रार्थना पत्रों को निर्धारित समय सीमा में निस्तारण करने के निर्देश दिए। उन्होंने कलेक्ट्रेट स्थित एक-एक कार्यालय का निरीक्षण करते हुए विभिन्न पटलों के संबंध में संबंधित कर्मचारियों से जानकारी भी हासिल की।
निरीक्षण के पश्चात मण्डलायुक्त ने जिलाधिकारी सहित दोनों अपर जिलाधिकारी एवं समस्त उप जिलाधिकारियों के साथ राजस्व कार्यों की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि न्यायालयों में दायर वादों के निस्तारण में तेजी लाई जाए। उन्होंने कहा कि अभियान चलाकर चकरोडों एवं तालाबों पर से अवैध कब्जा हटाने की कार्रवाई त्वरित गति से कराई जाए। आयुक्त ने मुख्यमंत्री शासन, विभिन्न आयोग के लम्बित सन्दर्भों को प्राथमिकता के आधार पर निस्तारण करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि किसी भी सेवानिवृत्त कर्मचारी का कोई भी पेंशन प्रकरण लम्बित नहीं रहना चाहिए और मृतक आश्रित के रूप में जिन कर्मचारियों की नियुक्ति की गई है, उनको प्रशिक्षण अवश्य दिलाया जाए। आयुक्त ने आडिट आपत्तियों के निस्तारण पर विशेष बल दिया।
राजस्व कार्यों की समीक्षा के दौरान प्रस्तुत किए गए आंकड़ों के आधार पर आयुक्त ने कई प्रकरणों में पत्रावली एवं पंजिकाएं तलब करते हुए उनका भी मिलान कर स्थिति का जायजा लिया। बैठक की समाप्ति के पश्चात उन्होंने जन शिकायतों को भी सुना और निस्तारण के निर्देश दिए।

One Response to "बदायूं में राम राज्य, मंडलायुक्त को सब कुछ सही लगा"

  1. Criatopher   May 24, 2015 at 11:52 PM

    That insight solves the prbolem. Thanks!

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.