पानी को तरस रहे लोग विकास देख कर खिल-खिला उठते हैं

पानी को तरस रहे लोग विकास देख कर खिल-खिला उठते हैं

बदायूं शहर के हालात देख कर लोगों को दुःख होता है, तो कई बार हंसी भी आ जाती है। नागरिक मूलभूत सुविधाओं को तरस रहे हैं, लेकिन उस दिशा में सकारात्मक कार्य करने की जगह डिवाइडर को सुंदर बनाने का काम युद्ध स्तर पर शुरू कर दिया गया है, जिसे देखने वालों को हंसी आ ही जाती है।

शहर के लोग पेयजल को लेकर त्रस्त हैं, पिछले दिनों पानी न आने को लेकर जमकर हंगामा हुआ था। चौधरी सराय और आस-पास के मोहल्लों में सुबह को एक घंटे तक काला पानी आता है, जिसको लेकर लोग बेहद परेशान हैं। लोगों का कहना है कि सुबह को नल खोलते ही ऐसा पानी आता है, जिससे कुछ भी नहीं कर सकते। एक घंटे तक नल खुला रखना पड़ता है, उसके बाद पानी का रंग बदलता है, लेकिन पालिका प्रशासन को इस सबसे कोई अंतर नहीं पड़ता, साथ तमाम स्थान ऐसे भी हैं, जहाँ पाइप लाइन नहीं पहुंची है। शुद्ध पेयजल को लोग आज भी तरस रहे हैं।

इसके अलावा शहर की गलियों की हालत ऐसी है कि लोगों की नजर चुक जाये, तो गिर कर मुंह टूट जायेगा। अधिकांश गलियों में गड्ढों के बीच सड़क खोजने से भी नहीं मिलती, ऐसे में एक-दो मिनट भी बारिश हो जाती है, तो पूरा मोहल्ला नर्क से बदतर हो जाता है, इस दिशा में भी प्रगति नजर नहीं आ रही है, जिससे मोहल्ले गाँव से भी बदतर स्थिति में हैं।

पथ प्रकाश व्यवस्था पर भी प्रश्न चिन्ह लगा हुआ है, जबकि यही सब पालिका के मूल कार्य हैं, जिनमें कोई बड़ा परिवर्तन होता नहीं दिख रहा है, लेकिन डिवाइडर को सुंदर बनाने की दिशा में कार्य युद्ध स्तर पर चल रहा है। डिवाइडर को सुंदर बनाने की इतनी जल्दी है कि मरम्मत से पहले टूटे और उल्टे पड़े हिस्सों को भी रंग दिया गया है, जिसे देखने वालों की हंसी नहीं रुक रही है। रंगे हुए टुकड़े सही किये जायेंगे, तो फिर खराब हो जायेंगें, जिसके बाद पुनः रंग करना पड़ेगा, मतलब अभी किया गया रंग निरर्थक चला जायेगा, पर सरकारी धन की बर्बादी होने पर किसी को दर्द नहीं होता, इस तरह की हरकतें की जा रही हैं, इन पर सवाल उठने के बाद सुधार करने की जगह जिम्मेदार किसी और पर ही सवाल उठाने लगते हैं कि उन्हें बदनाम कराया जा रहा है। जिन्हें बदनामी से डर लगता है, वे कदम सोच-विचार कर रखते हैं, ऐसे टूटे डिवाइडर पर रंग नहीं कराते।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

Leave a Reply

Your email address will not be published.