महेश चंद्र गुप्ता के आशीर्वाद से सालारपुर में अविश्वास प्रस्ताव पारित

महेश चंद्र गुप्ता के आशीर्वाद से सालारपुर में अविश्वास प्रस्ताव पारित

बदायूं जिले में जिस तरह ब्लॉक प्रमुख के दायित्व हथियाये गये थे, उसी प्रकार अब छीने जा रहे हैं हालाँकि छीनने में गुंडई और दबंगई का प्रयोग नहीं किया जा रहा है भाजपा विधायक महेश चंद्र गुप्ता के इशारे से लोग अब हीरो और जीरो बन रहे हैं सालारपुर ब्लॉक क्षेत्र की प्रमुख गेंदा देवी आज पद विहीन हो गईं

उल्लेखनीय है कि जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह ने अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान कराने की 27 फरवरी तिथि निश्चित की थी गाँव बल्लिया निवासी अशोक वर्मा के नेतृत्व में आज अविश्वास प्रस्ताव पर मतदान हुआ। कुल 84 सदस्यों में से 77 सदस्य अविश्वास प्रस्ताव लाये थे, जिनमें से आज 76 सदस्यों ने प्रस्ताव के पक्ष में वोट दिए, एक वोट निरस्त हो गया। अविश्वास प्रस्ताव पारित होने से आज गेंदा देवी पद विहीन हो गईं।

यह भी बता दें कि समाजवादी पार्टी की सरकार में दबाव के चलते सीएमओ व प्रभारी सीएमएस ने सालारपुर ब्लॉक के चालीस क्षेत्र पंचायतों सदस्यों को दृष्टि दोष प्रमाण पत्र जारी कर दिया था। सीएमएस ने तीन डॉक्टरों का पैनल बनाया था, जिसमें डॉक्टर परवीना माहेश्वरी, डॉक्टर हरपाल सिंह और डॉक्टर रियाज अहमद ने चालीस सदस्यों को कमजोर दृष्टि होने का प्रमाण पत्र जारी किया था, ऐसा इसलिए किया गया था कि सदस्यों के साथ सहायक जायेगा और वह मोहर लगायेगा

अब समय बदल गया है, अब भाजपा विधायक महेश चंद्र गुप्ता की तूती बोल रही है, अब उनके इशारे पर लोग हीरो और जीरो बन रहे हैं हालाँकि आज अविश्वास प्रस्ताव पर हुए मतदान में दबंगई नहीं दिखाई गई महेश चंद्र गुप्ता के आशीर्वाद से ही आसानी से प्रस्ताव पारित हो गया महेश चंद्र गुप्ता ने सालारपुर में विधिवत मतदान कराने का दायित्व अपने बेटे विश्वजीत गुप्ता को सौंपा था, जिसमें वे सफल साबित हुए हैं

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

पढ़ें: शपथ पत्रों के साथ सालारपुर ब्लॉक के सदस्य डीएम से मिले, कल आने को कहा

पढ़ें: आने वाली है अविश्वास प्रस्तावों की बाढ़, पहला शिकार है सालारपुर

पढ़ें: दबाव में तीस क्षेत्र पंचायत सदस्यों की नजर कमजोर कर दी

Leave a Reply

Your email address will not be published.