औचक निरीक्षण में 24 लापरवाह कर्मी सीडीओ के निशाने पर आये

औचक निरीक्षण में 24 लापरवाह कर्मी सीडीओ के निशाने पर आये

बदायूं में मुख्य विकास अधिकारी शेषमणि पाण्डेय ने विकास भवन स्थित ढेड़ दर्जन से अधिक कार्यालयों का औचक निरीक्षण किया, तो छह अधिकारी, 18 कर्मचारी अपने-अपने कार्यालय से नदारद पाए गए। सीडीओ ने घोर अप्रसन्नता व्यक्त करते हुए जवाब-तलब करने तथा विभागीय अधिकारियों से अनुपस्थित कर्मचारियों के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही कर अवगत कराने के निर्देश दिए हैं।

मंगलवार को सीडीओ ने डीआरडीए कार्यालय का निरीक्षण किया, तो मुख्य वित्त एवं लेखाधिकारी अनुपस्थित पाए गए। इस कार्यालय में कई अन्य कर्मचारी भी अनुपस्थित थे, लेकिन कार्यालय के दूसरे कर्मियों ने उपस्थिति पंजिका में उनके हस्ताक्षर बना दिए थे। सीडीओ ने इस पर कड़ी नाराज़गी जताते हुए निर्देशित किया कि उपस्थिति पंजिका उनके कार्यालय में रखी जाए। डीआरडीए के सभी कर्मचारी जिला विकास अधिकारी की मौजूदगी में उपस्थिति दर्ज करेंगे। जिला अर्थ एवं संख्या अधिकारी कार्यालय में अपर सांख्यिकीय अधिकारी रत्नेश कुमार, सहकारिता कार्यालय में सहायक विकास अधिकारी प्रदीप कुमार एवं युवराज कुमार के साथ ही सहायक आयुक्त/सहायक निबंधक सहकारिता भी अनुपस्थित पाए गए। उपायुक्त स्वतः रोजगार कार्यालय में जिला प्रबंधक तकसीर अहमद भी नदारद मिले।

जिला समाज कल्याण कार्यालय में चतुर्थ श्रेणी राम प्रसाद, लघु सिंचाई कार्यालय में कांतादेवी, जिला पंचायत राज कार्यालय में लेखाकार मुशीरुद्दीन, कनिष्ठ सहायक राजेन्द्र कुमार, चतुर्थ श्रेणी मदनपाल, मत्स्य पालक विकास अभिकरण में मत्स्य निरीक्षक एसएच जै़दी, जिला कृषि कार्यालय में वरिष्ठ सहायक चन्द्र शेखर यादव, प्रोवेशन कार्यालय में चतुर्थ श्रेणी गंगादीन, उत्तर प्रदेश अनुसूचित जाति वित्त विकास निगम में सहायक लेखाकार रामखिलाड़ी, नेडा कार्यालय में चतुर्थ श्रेणी पंकज श्रीवास्तव, मुख्य पशु चिकित्सा कार्यालय में प्रधान सहायक मु. अफसर हुसैन, वरिष्ठ सहायक अनुपम कुमारी, कनिष्ठ सहायक नरेन्द्र कुमार, जिला कार्यक्रम अधिकारी कार्यालय में प्रधान सहायक जाहिदा बी, कनिष्ठ सहायक ज्ञानेन्द्र सिंह, अभिषेक शास्त्री, सहकारिता कार्यालय में कनिष्ठ लिपिक जयप्रकाश गुप्ता तथा उपायुक्त स्वतः रोजगार कार्यालय में एफएमटी ध्रुव गोयल अनुपस्थित पाए गए।

सीडीओ ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिए कि कार्यालय में पर्याप्त सफाई व्यवस्था रखी जाए, शौचालयों की सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाए, टूट-फूट की तत्काल मरम्मत कराकर रंगाई-पुताई कराई जाए। एक सप्ताह के बाद पुनः निरीक्षण किया जाएगा। सीडीओ ने अनुपस्थित अधिकारियों एवं कर्मचारियों का एक दिन के वेतन/मानदेय कटौती के निर्देश दिए हैं। इस अवसर पर जिला विकास अधिकारी सेवाराम चौधरी मौजूद रहे।

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

Leave a Reply

Your email address will not be published.