विधायक प्रकरण में अब एसएसपी ने बदला विवेचनाधिकारी

विधायक प्रकरण में अब एसएसपी ने बदला विवेचनाधिकारी
अभियुक्त बसपा विधायक वीरेंद्र कुमार गंगवार।
अभियुक्त बसपा विधायक वीरेंद्र कुमार गंगवार।

बरेली जिले के विथरी चैनपुर विधान सभा क्षेत्र से दबंग बसपा विधायक वीरेन्द्र कुमार गंगवार आदि के प्रकरण में डीआईजी तो पीछे हट गये, लेकिन अब एसएसपी ने विवेचना स्थानांतरित करने का आदेश कर दिया है। विधायक के प्रकरण की अब बदायूं की क्राइम ब्रांच विवेचना करेगी।

उल्लेखनीय है कि बदायूं स्थित सिविल लाइन थाना पुलिस ने 13 सितंबर 2015 को धारा- 420, 468, 504 एवं 506 आईपीसी के अंतर्गत बरेली जिले की बिथरी चैनपुर विधानसभा क्षेत्र से बसपा विधायक वीरेंद्र कुमार गंगवार आदि के विरुद्ध मुकदमा दर्ज किया था, इस मुकदमे में दिल्ली के आजादपुर में स्थित बिल्टैक रजिस्टर्ड कंपनी के मैनेजिंग डायरेक्टर देव नारायण वादी हैं।

उक्त प्रकरण में सिविल लाइन थाना पुलिस ने गवाह और सुबूत जुटा कर न्यायालय से विधायक वीरेंद्र कुमार गंगवार आदि के विरुद्ध वारंट प्राप्त किया था, साथ ही पुलिस कुर्की वारंट लेने की तैयारी कर रही थी, जिसकी भनक किसी तरह विधायक को लग गई, तो विधायक ने डीआईजी से बरेली की क्राइम ब्रांच के लिए विवेचना स्थानांतरित करा ली, जिसकी खबर प्रकाशित होने के बाद डीआईजी ने अपना आदेश वापस ले लिया और विवेचना बदायूं पुलिस को वापस कर दी, लेकिन अब एसएसपी ने विवेचना थाना सिविल लाइन को न देकर क्राइम ब्रांच को दे दी है। क्राइम ब्रांच के इंस्पेक्टर रामलखन सिंह यादव विवेचनाधिकारी नियुक्त किये गये हैं।

सूत्रों का कहना है कि समाजवादी पार्टी के एक प्रभावशाली नेता हैं, जो बरेली में भी रहते हैं, जहां सपा नेता से अभियुक्त विधायक वीरेंद्र कुमार गंगवार ने संपर्क कर लिया। चर्चा यह भी है कि सपा नेता ने विधायक वीरेंद्र कुमार गंगवार को बचाने के लिए मोटी रकम ली है। सूत्र का कहना है कि सपा नेता के दबाव में डीआईजी ने विवेचना स्थानांतरित की थी, लेकिन फजीहत से बचने के लिए उन्होंने आदेश वापस ले लिया। विवेचना बदायूं वापस आ गई, तो सपा नेता ने एसएसपी पर दबाव बना कर विवेचना बदायूं की क्राइम ब्रांच को दिलवा दी, क्योंकि थाना सिविल लाइन के तेजतर्रार एसओ अजय कुमार यादव को अभियुक्त खरीद नहीं पा रहे थे।

संबंधित खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें लिंक

दबंग विधायक के प्रकरण में डीआईजी ने वापस लिया आदेश

अभियुक्त विधायक के प्रार्थना पर स्थानांतरित कर दी विवेचना

दबाव के चलते विधायक को गिरफ्तार नहीं कर रही पुलिस

बरेली के बसपा विधायक पर कई गंभीर आरोप, मुकदमा दर्ज

अभियुक्त के साथ खड़े दैनिक जागरण के विरुद्ध सपा का धरना

Leave a Reply

Your email address will not be published.