सवाल: बरेली में मेयर पद का प्रत्याशी भाजपाई होगा, या गैर भाजपाई?

सवाल: बरेली में मेयर पद का प्रत्याशी भाजपाई होगा, या गैर भाजपाई?

भारतीय जनता पार्टी हर चुनाव में सबसे निचले पायदान से प्रस्ताव मांगती है और फिर ऐसे व्यक्ति को टिकट देती है कि हर किसी का मुंह खुला रह जाता है। बरेली में भाजपा ऐसे व्यक्ति को ही टिकट देने जा रही है, जिसके बारे में पता ही नहीं है कि वह किस दल में है। केन्द्रीय मंत्री कार्यकर्ताओं के साथ हैं, वहीं प्रदेश अध्यक्ष गैर भाजपाई को टिकट देने पर अड़े हुए हैं।

बरेली नगर निगम में महापौर के प्रत्याशी को लेकर भाजपा में भूचाल आया हुआ है। सर्वाधिक मजबूत दावेदार और कार्यकर्ताओं की पहली पसंद गुलशन आनंद के टिकट को लेकर सभी आश्वस्त थे, लेकिन गंगाचरण वाले डॉ. प्रवेन्द्र माहेश्वरी और गंगाराम अस्पताल वाले डॉ. राघवेन्द्र शर्मा ने टिकट को लेकर संघर्ष त्रिकोणीय कर दिया था, इन्हीं तीन दावेदारों में से टिकट किसी एक का टिकट होना था, इस बीच खबर आई कि उमेश गौतम का टिकट फाइनल कर दिया गया है, इस खबर के लीक होते ही भाजपा कार्यकर्ता स्तब्ध रह गये और फिर उनके आक्रोश से लखनऊ व दिल्ली तक का राजनैतिक वातावरण गर्मा गया।

सूत्रों का कहना है कि केन्द्रीय मंत्री संतोष गंगवार हाईकमान के सामने खुल कर कार्यकर्ताओं के साथ खड़े हो गये हैं, लेकिन प्रदेश अध्यक्ष महेंद्रनाथ पांडेय उमेश गौतम को टिकट देने पर अड़े हुए हैं। बरेली से लेकर लखनऊ और दिल्ली तक गतिविधियाँ तेजी से बदल रही हैं। कुछ ही घंटों में खुलासा हो जायेगा कि भाजपा टिकट संगठन के व्यक्ति को देगी, या गैर भाजपाई को?

(गौतम संदेश की खबरों से अपडेट रहने के लिए एंड्राइड एप अपने मोबाईल में इन्स्टॉल कर सकते हैं एवं गौतम संदेश को फेसबुक और ट्वीटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं, साथ ही वीडियो देखने के लिए गौतम संदेश चैनल को सबस्क्राइब कर सकते हैं)

Leave a Reply

Your email address will not be published.